जब भी मिलती है, बहुत क़रीब सी लगती है !
जब भी मिलती है , बहुत क़रीब सी लगती है !

ऐ ज़िन्दगी तू आज भी बहुत अजीब सी लगती है.

Jab bhee milatee hai bahut qareeb see lagatee hai !
Jab bhee milatee hai bahut qareeb see lagatee hai !
Ae zindagee too aaj bhee bahut ajeeb see lagatee hai.